Wednesday, October 21, 2020
ताज़ातरीनराज्य

गौरी सरोवर में गिरी तेज रफ्तार कार, तीन कांवरियों की डूबने से मौत

भिंड । कांवरियों से भरी तेज रफ्तार कार गौरी सरोवर में जा गिरी। हादसे में कार सवार तीनों कांवरियों की मौत हो गई। हादसा शुक्रवार सुबह 2:40 बजे त्रयंवकेश्वर मंदिर के सामने हुआ। प्रत्यदर्शी का कहना है तीनों लोग श्रृंगीरामपुर से कांवर भरकर लाए थे। रात में कार से परिजन उन्हें लेने के लिए आए। गौरी सरोवर किनारे त्रयंवकेश्वर मंदिर के सामने कार पार्क की गई। परिजन कार से उतर गए। इसमें कांवर भरकर आए तीनों लोग आराम करने बैठ गए।

इसी दौरान कार में सवार एक कांवरिए ने चाबी लगाई। कार स्टार्ट होकर आगे बढ़ी। कार रोकने ब्रेक लगाने के बजाए एक्सीलेटर दब गया। इससे कार तेज रफ्तार होकर सरोवर में जा गिरी। कलेक्टर छोटे सिंह, एएसपी संजीव कंचन, एसडीएम इकबाल मोहम्मद ने सर्च ऑपरेशन कर कार को बाहर निकाला। तीनों शव को पीएम के लिए जिला अस्पताल भिजवाया गया है।

सरोवर में ऐसे चली गई कार

महाशिवरात्रि पर्व के लिए भारौली खुर्द गांव से बृजमोहन सिंह 50 पुत्र परमाल सिंह राजावत, चंद्रभान सिंह उर्फ लला 25 पुत्र यदुनाथ सिंह राजावत, बृजकिशोर शर्मा 22 पुत्र सत्यनारायण शर्मा गुरुवार को श्रृंगीराम पुर के लिए रवाना हुए थे। तीनों रात 1:30 बजे कांवर भरकर वापस लौटे।

गांव से रात 2+40 बजे बृजमोहन सिंह के बेटे पंकज सिंह एंडुवर कार क्रमांक एमपी 21 सीए 0084 में मां विनीता देवी, दादी रामादेवी और चंद्रभान की मां ओमवती सिंह और पत्नी सपना सिंह को लेकर गौरी सरोवर किनारे आ गए। यहां त्रयंवकेश्वर मंदिर के सामने पंकज ने कार खड़ी कर दी।

पंकज और परिजन कार से नीचे उतरकर बाहर खड़े हो गए। पंकज के पिता बृजमोहन सिंह, बृजकिशोर शर्मा थकावट दूर करने के लिए कार में बीच वाली सीट पर बैठ गए। आगे ड्राइवर सीट पर चंद्रभान सिंह बैठ गए।

चंद्रभान सिंह ने पंकज से कार की चाबी मांग ली। चाबी देकर पंकज परिजन के पास चले गए। इसी दौरान चंद्रभान सिंह ने कार में चाबी लगाई। कार स्टार्ट होकर आगे की ओर बढ़ी। कार को रोकने के लिए चंद्रभान ने ब्रेक लगाने चाहे, लेकिन गलती से पैर एक्सीलेट पर चला गया। इससे कार करीब 100 की स्पीड से सरोवर में त्रयंवकेश्वर मंदिर के सामने बने घाट की ओर घूमकर सरोवर में जा गिरी।

Leave a Reply