Now Reading
सीएए पर बोलने से रोका तो धरने पर बैठ गये भाजपा के पूर्व विधायक

सीएए पर बोलने से रोका तो धरने पर बैठ गये भाजपा के पूर्व विधायक

छिंदवाड़ा । सीएए पर नही बोलने देने से नाराज भाजपा के पूर्व विधायक बैठे मौन धरने पर,भाजपा जिला अध्यक्ष सहित वरिष्ठ नेता मौजूद…पूर्व सीएम शिवराज ने भी मौन धरने को लेकर ट्वीट किया है ।

26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान पूर्व भाजपा विधायक रमेश दुबे अपने भाषण में कर रहे थे सीएए की चर्चा,चौरई एसडीएम ने विवादित विषय बताकर रोका था पूर्व विधायक का भाषण

भाजपा का आरोप सीएम कमलनाथ के इशारे पर हुआ सब कुछ,एमपी को पाकिस्तान बनाना चाहती है कांग्रेस

एमपी के सीएम कमलनाथ के गृह जिले छिंदवाड़ा में एसडीएम मेघा शर्मा द्वारा भाजपा के पूर्व विधायक रमेश दुबे को सीएए कानून पर बोलने से रोकने के मुद्दे को भाजपा अब अपने हाथों से जाने नही देना चाहती है यही कारण है कि इस मुद्दे को आधार बनाकर आगामी दिनों में भाजपा सीएम कमलनाथ और कांग्रेस को घेरने में कोई कोर कसर नही छोड़ेगी जिसकी शुरुआत आज खुद पूर्व विधायक रमेश दुबे ने 12 घण्टे मौन धरने से कर दी है और इस मौन धरने को समर्थन देने के लिए पूरी जिला भाजपा भी धरना स्थल में पहुंची हुई है…….आपको बता दें कि छिंदवाड़ा के चौरई में नगर पालिका ग्राउंड में विगत 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान कार्यक्रम अध्यक्ष के तौर पर समारोह में पहुंचे चौरई के पूर्व भाजपा विधायक रमेश दुबे मुख्यमंत्री के संदेश वाचन के बाद अध्यक्षीय भाषण देने मंच पर आए थे,भाषण के दौरान ही कुछ देर बाद पूर्व विधायक दुबे सीएए के बारे में चर्चा करते हुए कानून कैसे पास हुआ और इसके क्या फायदे शरणार्थियों को मिलेंगे इस बारे में बता ही रहे थे कि चौरई एसडीएम मेघा शर्मा ने सीएए को विवादित विषय बताकर रमेश दुबे के भाषण को बीच मे ही रुकवा दिया,जिसके बाद पूर्व विधायक और एसडीएम के बीच मंच पर ही कहा सुनी भी हुई जिसके बाद पूर्व विधायक ने उनकी आवाज़ को दबाने और संविधान अनुसार पास कानून पर न बोले देने का आरोप लगाकर अपना भाषण समाप्त कर दिया था……..संसद से पास कानून पर न बोलने देने और पूर्व विधायक के अपमान से आहत होकर ही आज भाजपा ने 12 घण्टे के मौन धरने का आयोजन किया है……धरना स्थल पर मौजूद भाजपा जिला अध्यक्ष विवेक बंटी साहू ने मीडिया से चर्चा करते हुए बताया कि सीएए को लेकर कांग्रेस पूरे देश मे अराजकता का माहौल बना रही है और एमपी में तिरंगा उठाने पर कहीं कलेक्टर लोगों को मारती है वहीं सीएम के गृह जिले में कानून पर बात करने से एसडीएम पूर्व विधायक को रोकती है,क्या कांग्रेस एमपी को पाकिस्तान बनाना चाहती है वही विवेक साहू ने पूर्व विधायक के साथ हुई इस घटना को सीएम कमलनाथ के इशारे पर होने का आरोप लगाते हुए कहा कि आज अधिकारी और कर्मचारी कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता बनकर काम कर रहेक है…इस मुद्दे को लेकर आगामी समय मे भी भाजपा रूपरेखा बनाकर अपनी आवाज़ बुलंद करेगी।

 

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top