Now Reading
उमा ने सिंधिया को गले लगाया, विजयवर्गीय को देख खुश नजर आए ज्योतिरादित्य

उमा ने सिंधिया को गले लगाया, विजयवर्गीय को देख खुश नजर आए ज्योतिरादित्य

ग्वालियर. ग्वालियर में शुक्रवार को रात सियासत की एक अनोखी तस्वीर देखने के लिए मिली. रेलवे स्टेशन पर उमा भारती (Uma Bharti), कैलाश विजयवर्गी और ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindhia) का मिलना हुआ. सिंधिया ने झुककर उमा भारती को नमन किया तो उमा भारती ने सिंधिया को गले लगाया और सिर पर हाथ फेर कर दुलार किया. वहीं सिंधिया ने विजयवर्गी को देखकर खुशी जताई और फिर दोनों गले मिले. इस दौरान उमा, सिंधिया और विजयवर्गी के बीच कुछ देर के लिए बातचीत भी हुई.

समर्थकों ने की नारेबाजी तो लगा होगा टकराव…
ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर शुक्रवार की रात जैसे ही शताब्दी एक्सप्रेस आकर रुकी, तो ज्योतिरादित्य सिंधिया दिल्ली जाने के लिए शताब्दी में सवार होने के लिए पहुंचे थे, सिंधिया के कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए शताब्दी एक्सप्रेस के एग्जिक्यूटिव कोच की तरफ बढ़े, इसी दौरान कोच से भोपाल से ग्वालियर आई थी. इसमें पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती और कैलाश विजयवर्गी थे जो वहां पर उतरे. इस दौरान उमा और कैलाश का सामना सिंधिया से हुआ पहले तो दोनों के समर्थक जमकर नारेबाजी करने लगे. यह देख ऐसा लगा कि शायद थोड़ी देर बाद यहां तनाव ने हो जाए.जैसे ही उमा भारती और सिंधिया का आमना सामना हुआ तो सिंधिया ने उमा भारती को झुककर नमन किया, तो वहीं उमा भारती ने सिंधिया को गले लगाया. कुछ देर बातचीत हुई उमा भारती ने सिंधिया के सिर पर दुलार से हाथ भी फेरा. उमा के पीछे से कैलाश विजयवर्गी भी सिंधिया के सामने आए. सिंधिया की नजर विजयवर्गीय पर पड़ी तो सिंधिया मुस्कुराए और फिर कैलाश विजयवर्गीय से भी गले मिले. इस दौरान उमा भारती के पैरों में तकलीफ देखकर व्हील चेयर मंगाई गई सिंधिया ने उमा भारती को व्हील चेयर पर बैठाकर विदाई ली.

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top