Wednesday, October 21, 2020
ताज़ातरीनदेश

शरजील इमाम के पैतृक घर पर पुलिस ने मारा छापा, दिया था शाहीन बाग में आपत्तिजनक भाषण

जहानाबाद. दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी को लेकर हो रहे विरोध-प्रदर्शन के सूत्रधार और आपत्तिजनक भाषण देने के आरोपी जेएनयू के छात्र शरजील इमाम के जहानाबाद स्थित पैतृक घर पर पुलिस ने रविवार को छापा मारा। पुलिस ने काको स्थित घर पर छापेमारी की।

छापेमारी करने वाली टीम केंद्रीय एजेंसियों के ऑफिसर थे। जहानाबाद पुलिस ने छापेमारी में मदद की। तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। बाद में हिरासत में लिए गए लोगों को छोड़ दिया गया। हिरासत में लिए गए लोग शरजील के रिश्तेदार हैं। पुलिस को घर से शरजील नहीं मिला।

इस संबंध में जहानाबाद एसपी मनीष कुमार ने बताया कि केन्द्रीय एजेंसियों ने सहयोग मांगा था। जहानाबाद पुलिस के सहयोग से काको स्थित उसके पैतृक घर पर छापेमारी की गई।

शर्जील के खिलाफ दर्ज है राजद्रोह का केस
शर्जील दिल्ली के शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ चल रहे प्रदर्शन के आयोजक भी है। अलीगढ़ की सभा का उसका एक वीडियो वायरल हुआ। इसके बाद अलीगढ़ में शर्जील के खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज किया गया। शर्जील पर अलीगढ़ के अलावा असम में भी राजद्रोह का केस दर्ज किया गया है।

‘सेना के लिए असम का रास्ता रोकें’
शर्जील ने अलीगढ़ के एएमयू में सभा के दौरान कहा था, ‘‘क्या आप जानते हैं कि असमिया मुसलमानों के साथ क्या हो रहा है? एनआरसी पहले से ही वहां लागू है, उन्हें हिरासत में रखा गया है। आगे चलकर हमें यह भी पता चल सकता है कि 6- 8 महीने में सभी बंगालियों को मार दिया गया। हिंदू हों या मुस्लिम।

Leave a Reply