Now Reading
ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महाआर्यमन से मिले शिवराज

ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महाआर्यमन से मिले शिवराज

ग्वालियर। राजमाता विजयाराजे सिंधिया की 19वीं पुण्य तिथि पर श्रद्धांजलि कार्यक्रम में ग्वालियर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री की मुलाकात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महाआर्यमन से हो गई। दोनों ने एक दूसरे का अभिवादन किया। इससे पहले श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शिवराज ने अम्मा महाराज (विजयाराजे सिंधिया) को स्मरण करते हुए वो भजन भी सुनाया जो उन्होंने सालों पहले राजमाता को सुनाया था। शिवराज सिंह भजन गा रहे थे उस दौरान महाआर्यमन भी ताली बजा उनका साथ देते रहे।

राजमाता सिंधिया की पुण्यतिथि पर भारतीय जनता पार्टी पूरे प्रदेश में श्रद्धांजलि सभा आयोजित की है। मुख्य कार्यक्रम ग्वालियर में विजियाराजे सिंधिया की छत्री पर आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में शिवराज सिंह भी राजमाता को श्द्धांजलि देने पहुंचे। छत्री पर आयोजित कार्यक्रम में राजामाता की छोटी बेटी यशोधरा राजे और ज्योतिरादित्य के बेटे आर्यमन भी पहुंचे।

इस मौके पर शिवराज सिंह चौहान ने राजमाता से जुड़े संस्मरण सुनाते हुए कहा कि उन्होंने राजपथ से जनपथ का रास्ता अपनाया। उनका जीवन हमारे लिए प्रेरणास्पद है। आज भाजपा जिस स्थिति में है उसकी नीव राजमाता ने ही रखी। शिवराज ने कहा कि जब वे बहुत छोटे थे उस समय होशंगाबाद में बाढ़ आई हुई थी। सरकार की मदद भी नहीं मिल रही थी। ऐसे कठिन दौर में राजमाता बाढ़ पीढ़ितों के लिए राहत सामग्री लेकर पहुंची थी। उन्होंन तब पहलीबार राजमाता को देखा था। शिवराज सिंह ने इस मौके पर वही भजन गाया जो उन्होंने सालों पहले राजमाता विजयाराजे सिंधिया को सुनाया था।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top