Now Reading
ओवैसी का तंज- नाम बदलने वाली BJP क्या हलवे के अरबी नाम को बदलेगी

ओवैसी का तंज- नाम बदलने वाली BJP क्या हलवे के अरबी नाम को बदलेगी

मुंबई: नागरिकता संशोधन कानून, एनआरसी और एनपीआर को लेकर विपक्ष लगातार केंद्र सरकार पर निशाना साध रहा है. विपक्ष के नेताओं के सीएए के विरोध में आए दिन बयान सामने आ रहे हैं. वहीं, अब हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर गृहमंत्री अमित शाह को बहस करने की चुनौती दे दी है.

 

सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में असदुद्दीन ओवैसी मुखर होकर अपनी आवाज उठाते आए हैं. इस नए कानून की मुखालफत में कभी वह हैदराबाद में तिरंगा रैली निकाल रहे हैं, तो कभी गणतंत्र दिवस पर आधी रात को चारमीनार पर तिरंगा फहराने की तैयारी कर रहे हैं. दरअसल तेलंगाना में इन दिनों नगर पालिका के चुनाव चल रहे हैं और इन चुनावों में अपनी पार्टी एआईएमआईएम के चुनाव प्रचार में असदुद्दीन ओवैसी प्रदेश के अलग-अलग हिस्सों में जनसभाएं कर रहे हैं.

 

CAA-NRC पर दी बहस की चुनौती
चुनाव प्रचार में करीमनगर इलाके में जनसभा के दौरान ओवैसी ने गृह मंत्री अमित शाह को सीएए, एनआरसी और एनपीआर को लेकर बहस की चुनौती दी. उन्होंने बहस का प्रस्ताव रखते हुए कहा, “मैं गृह मंत्री को नए कानून पर बहस करने की चुनौती देता हूं, दाढ़ी वाले से बहस करने पर टीआरपी भी अच्छी आएगी.”

 

हलवा सेरेमनी के बहाने वित्त मंत्री को घेरा
ओवैसी यहीं पर नहीं रुके, गृहमंत्री को घेरने के बाद उन्होंने वित्त मंत्री को निशाने पर लिया. वित्त मंत्रालय की हलवा सेरेमनी की बात करते हुए उन्होंने कहा, “बीजेपी के नेता नाम बदलने की कवायद करते हैं और बीजेपी की वित्त मंत्री हलवा के आगे नमस्ते कर रही हैं.” ओवैसी ने तंज कसते हुए कहा, “हलवा उर्दू या हिंदी का शब्द नहीं है, हलवा अरबी शब्द है. इसको क्यों नहीं बदल रहे हैं.” ओवैसी ने बीजेपी के नेताओं को घेरते हुए कहा, “यह सब कुछ चेंज करने की बात करते हैं. इस बार आवाम इनको ही चेंज कर देगी.”

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top