Tuesday, October 27, 2020
ताज़ातरीनराज्य

भाजपा मीडिया प्रभारी ने कहा – कार्यकर्ताओं से मारपीट विक्षिप्त मानसिकता का प्रतीक

  • *मुख्यमंत्री के इशारे पर अधिकारियों के दम पर अराजकता करायी जा रही है*-
    *लोकेन्द्र पाराशर*
    *मीडिया प्रभारी ने कहा – कार्यकर्ताओं से मारपीट विक्षिप्त मानसिकता का प्रतीक

ग्वालियर। नागरिकता संशोधन कानून यानि देश का कानून। उस संविधान का हम हिस्सा है। संविधान को सम्मान देने के लिए राष्ट्रभक्त कार्यकर्ताओं की संख्या ज्यादा थी और समर्थन के लिए निकलना चाहते थे। ब्यावरा की कलेक्टर मानसिक रूप से विक्षिप्त है। उसका इलाज किसी अच्छे पागलखाने अस्पताल में कराना चाहिए। ऐसा प्रतीत होता है मुख्यमंत्री के इशारे पर और अधिकारियों के दम पर यह अराजकता करायी जा रही है। कार्यकर्ताओं को डराया धमकाया जा रहा है। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मीडिया प्रभारी श्री लोकेन्द्र पाराशर ने ग्वालियर में मीडिया से चर्चा करते हुए कही।
उन्होंने कहा कि जब कलेक्टर खुद कार्यकर्ताओं से मारपीट करने लगे, तिरंगा झंडे को छीनकर सड़क पर फेके, उसे रौंदे और कार्यकर्ताओं का कॉलर पकडकर घसीटे यह सब विक्षिप्त मानसिकता का रोगी ही कर सकता है। मुख्यमंत्री कमलनाथ को उसकी जांच करानी चाहिए। मुख्यमंत्री अधिकारियों के दम पर गुंडागर्दी करके लोकतंत्र को कुचलना चाहते है। मुख्यमंत्री के इशारे पर ही कलेक्टर ने संविधान का अपमान किया है। यह भारतीय जनता पार्टी या कार्यकर्ता का विरोध नहीं बल्कि संविधान का विरोध है। इसके लिए मुख्यमंत्री और कलेक्टर को जवाब देना पडेगा।

Leave a Reply