Saturday, January 25, 2020
ताज़ातरीनदेश

दिल्ली यूनिवर्सिटी में CAA और NRC के खिलाफ प्रदर्शन, मेधा पाटकर

नई दिल्ली. नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Act), एनआरसी (NRC) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) को लेकर दिल्ली विश्वविद्यालय (Dehi University) में गुरुवार को छात्र और सामाजिक संगठन प्रदर्शन कर रहे हैं. कई संगठनों ने मिलकर ‘गांधी कॉलिंग’ नाम से यह प्रोटेस्ट बुलाया है. दिल्ली विश्वविद्यालय के नॉर्थ कैंपस में हो रहे इस प्रदर्शन में जामिया मिल्लिया इस्लामिया और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के छात्रों के अलावा कई वामपंथी छात्र संगठन भी शामिल हैं. इस प्रदर्शन में नर्मदा बचाओ आंदोलन से जुड़ीं सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर, तुषार गांधी, जस्टिस कोलसे पाटिल के अलावा कुछ और नामचीन लोग भी शामिल हो रहे हैं.

कई छात्र संगठन भी शामिल
दिल्ली विश्वविद्यालय में NRC, NPR और CAA के खिलाफ ‘गांधी कॉलिंग’ नाम से हो रहे प्रदर्शन में बड़ी संख्या में छात्र संगठन शिरकत कर रहे हैं. इन छात्र संगठनों में जहां जामिया, जेएनयू, एनएसयूआई के सदस्य शामिल हैं. वहीं कई वामपंथी छात्र संगठन- आईसा, एसएफआई आदि भी शामिल हैं. इसके अलावा KYS, AIQA, MSF, DSU, NAZARIYA, BSCEM, DSU, AIDSF, DYFI, DSWSU संगठन के छात्र भी प्रदर्शन में हिस्सा ले रहे हैं.नागरिकता कानून, एनआरसी और एनपीआर के खिलाफ दिल्ली यूनिवर्सिटी में हो रहे प्रदर्शन में शाहीन बाग की महिलाएं भी शामिल हो रही हैं. आपको बता दें कि इस कानून के खिलाफ पिछले एक महीने से ज्यादा समय से शाहीन बाग की महिलाएं लगातार प्रदर्शन कर रही हैं. ये महिलाएं केंद्र सरकार से इस कानून को वापस लेने की मांग कर रही हैं.

Leave a Reply