Now Reading
साल के आखिरी ‘मन की बात’ में बोले मोदी- आज का युवा व्यवस्था को पसंद कर रहा है

साल के आखिरी ‘मन की बात’ में बोले मोदी- आज का युवा व्यवस्था को पसंद कर रहा है

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दिसंबर 2019 में साल की आखिरी और इस दशक की आखिरी ‘मन की बात’ के जरिए देश को संबोधित कर रहे हैं। 2019 की विदाई के पल हमारे समाने हैं, अब हम न सिर्फ नए साल में प्रवेश करेंगे, बल्कि नए दशक में प्रवेश करेंगे। इसमें देश के विकास को गति देने में वे लोग सक्रिय भूमिका निभाएंगे, जिनका जन्म 21वीं सदी में हुआ है।

इस कार्यक्रम के लिए उन्होंने 16 दिसंबर को प्रधानमंत्री मोदी ने इसके लिए जनता से विचार आमंत्रित किए थे। मोदी ने कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए लोगों को नए साल की बधाई दी। पीएम मोदी ने कहा है कि देश के युवाओं को अराजकता और जातिवाद से चिढ़ है। आज का युवा जात-पात से ऊंचा सोचता है। ये युवा परिवाववाद और जातिवाद पसंद नहीं करते हैं। पीएम मोदी ने कहा कि आज का युवा व्यवस्था को पसंद करता है और जब भी कोई व्यवस्था तोड़ता है, तो युवा मोबाइल निकालकर उसका वीडियो बना लेता है, जो वायरल भी हो जाता है और बाद में गलत काम करने वालों को बाद में पछतावा भी होता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आज का पीढ़ी बेहद तेज-तर्रार है। ये पीढ़ी कुछ नया और कुछ अलग करने की सोचती है। स्वामी विवेकानंद जी कहते थे कि युवावस्था की कीमत को न आंका जा सकता है। ये जीवन का सबसे मूल्यवान कालखंड होता है। आपका जीवन इस पर निर्भर करता है कि आप अपनी युवावस्था का उपयोग किस प्रकार करते हैं।

हम अलग अलग कॉलेजों में, यूनिवर्सिटीज में और स्कूल्स में पढ़ते तो हैं, लेकिन पढ़ने के बाद अलुमनाई मीट (Alumni meet) एक बहुत सुहाना अवसर है। इस अवसर पर सभी नौजवान पुरानी यादों में खो जाते हैं, इसका एक अलग ही आनंद है।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top