Now Reading
भाई को भाई से लड़ाकर देश का फायदा नहीं: राहुल गांधी

भाई को भाई से लड़ाकर देश का फायदा नहीं: राहुल गांधी

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में शुक्रवार से शुरू हुए राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी शिरकत करने के लिए पहुंचे हैं। इस दौरान उन्होंने बिना किसी का नाम लिए केंद्र सरकार और भाजपा पर निशाना साधा। राहुल गांधी ने कहा कि बिना सबको लिए हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को नहीं चलाया जा सकता है। भाई से भाई को लड़ाकर देश को फायदा नहीं है। सबको साथ लेकर ही चलना होगा। उन्होंने केंद्र में कांग्रेस की सरकार नहीं होने को लेकर इशारों ही इशारों में कहा कि जब इस देश की आवाज लोकसभा, विधानसभा मे नहीं सुनाई देगी, कितना भी जोर लगा लो व्यवस्था बदल नही पाएगी।

साइंस कॉलेज मैदान में शुरू हुए तीन दिवसीय नृत्य महोत्सव में राहुल गांधी ने कहा कि देश की हालत, किसानों की समस्या, आत्महत्या, अर्थव्यवस्था की हालत, बेरोजगारी की हालत आप जानते हो, दोहराने की जरूरत नहीं है। छत्तीसगढ़ की सरकार आपके साथ मिलकर काम कर रही है। जो पहले यहां हिंसा हुआ करती थी, उसमें कमी आई है। यह सरकार लोगों की आवाज सुनती है। विधानसभा में सबकी आवाज सुनाई देती है। सरकार चलाने में आपके विचारों को शामिल किया जा रहा है। तेंदुपत्ता, सुपोषण, जमीन वापसी को लेकर सरकार काम कर रही है। उन्होंने कहा कि यहां दूर-दूर से आदिवासी भाई आए हैं। यह पहला कदम है, बहुत अच्छा कदम है।

आदिवासियों के सामने देश में बहुत समस्याएं हैं। मैं एक बात कहना चाहता बिना सबको लिए हर धर्म, जाती, आदिवासी, दलितों को लिए बिना हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था नहीं चलाई जा सकती। जब तक इस देश को जोड़ेंगे नहीं, यह देश आगे नहीं बढ़ेगा। मैं हर भाषण में कहता हूं कि अर्थव्यवस्था को आदिवासी-किसान चलाते हैं। अगर आप पूरा पैसा कुछ लोगों को दे दोगे, नोटबंदी करोगे, गलत जीएसटी लागू करोगे तो अर्थव्यवस्था नहीं चल सकती है।

दंतेवाड़ा में बीपीएल परिवारों को 4 साल में इससे निकालना सरकार का संकल्प : मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि दंतेवाड़ा में गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे लोगों को 4 सालों में इससे बाहर निकालेंगे। इसको लेकर सरकार की ओर से संकल्प लेता हूं। राष्ट्रीय गरीबी रेखा के औसत से भी उन्हें ऊपर लाया जाएगा। इस दौरान छत्तीसगढ़ सरकार की योजना नरवा, गरवा, बारी से संबंधित चिन्ह भी राहुल गांधी को भेंट किए गए। म्यूरल आर्ट के अलावा गोबर से तैयार राहुल गांधी का नेम प्लेट और गोबर के दिए भी उन्हें भेंट स्वरूप दिए गए।

View Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Scroll To Top