Thursday, October 22, 2020
ताज़ातरीनदेश

मोदी ने इजराइल को हनुक्का की बधाई दी

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को इजराइल को यहूदी समुदाय के त्योहार हनुक्का की बधाई दी है। आठ दिन तक चलने वाले इस त्योहार की तुलना मोदी ने दिवाली से की। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “इजराइल के लोगों को चग हनुक्का की बधाई। हनुक्का और दिवाली दोनों त्योहार भारत और इजराइल के बीच साझा सांस्कृतिक मेलजोल दर्शाते हैं। दोनों त्योहार रोशनी और बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक के तौर पर मनाए जाते हैं। मोदी ने अपने ट्वीट में इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्याहू को भी टैग किया।

मोदी ने 2014 में प्रधानमंत्री बनने के साथ ही नेतन्याहू के साथ दोस्ती गहरी करने की कोशिश शुरू कर दी। मोदी 2017 में दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंधों के 25 साल पूरे होने पर इजराइल गए थे। इसके बाद नेतन्याहू ने भी भारत का दौरा किया था। नेतन्याहू ने इस साल अपने चुनाव अभियान के पोस्टरों में मोदी की तस्वीरों का इस्तेमाल किया था।

व्हाइट हाउस ने बयान जारी कर शुभकामनाएं दीं

मोदी के अलावा अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भी यहूदी समुदाय को हनुक्का की शुभकामनाएं दीं। व्हाइट हाउस की तरफ से जारी बयान में कहा गया, “मेलानिया और मेरी तरफ से अमेरिका-इजराइल और दुनियाभर में रहने वाले यहूदी समुदाय को हनुक्का की बधाई।” व्हाइट हाउस ने बयान में हनुक्का का ऐतिहासिक महत्व का भी जिक्र किया।

क्यों मनाया जाता है हनुक्का? 
आठ दिनों तक चलने वाला हनुक्का यहूदियों का बड़ा त्योहार है। इसे रोशनी का त्योहार (फेस्टिवल्स ऑफ लाइट्स) भी कहा जाता है। इस साल हनुक्का 22 दिसंबर से 30 दिसंबर तक मनाया जा रहा है। मान्यता है कि दूसरी सदी में यहूदी समुदाय ग्रीक और सीरियाई उत्पीड़कों के खिलाफ खड़ा हुआ था। इसे मकैबियन विद्रोह नाम दिया गया था। उसी याद में यहूदी हर साल हनुक्का मनाते आ रहे हैं। हिब्रू में हनुक्का का मतलब है समर्पण।

Leave a Reply