Saturday, September 26, 2020
ताज़ातरीनराज्य

ग़रीबों के लिए सड़क पर उतरे बीजेपी नेता, विधानसभा तक मार्च

भोपाल.कमलनाथ सरकार (Kamalnath government) के ख़िलाफ बीजेपी (bjp) का प्रदर्शन जारी है. सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरकर लड़ाई का ऐलान कर चुकी बीजेपी के विधायकों ने आज फिर मार्च किया. आज ग़रीबों के हक़ के लिए ये नेता मार्च करते हुए विधानसभा (assembly) पहुंचे. इस मार्च में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव (gopal bhargav) और पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) सहित बाकी विधायक शामिल हुए.

किसान, यूरिया संकट, बिजली बिल, महिला अपराध और बेरोज़गारी के मुद्दे पर तीन दिन से मार्च कर रहे बीजेपी नेता आज फिर पैदल विधानसभा पहुंचे. आज वो ग़रीबों के हक़ की लड़ाई लड़ने के लिए उतरे. नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा ये गरीबों की लड़ाई है जो सड़क से लेकर विधान सभा तक लड़ी जाएगी. ये लड़ाई पूरी तरह से लड़ी जाएगी. उन्होंने आरोप लगाया कि ग़रीब परिवार के मुखिया की मौत पर परिवार को दी जाने वाली 2 लाख की राशि बंद कर दी गयी है. दुर्घटना में 4 लाख की राशि हम देते थे कमलनाथ सरकार ने वो भी बंद कर दी. कफन दफन के लिए 5 हज़ार देना भी बंद कर दिया गया. महिलाओं की डिलिवरी के लिए 16हज़ार रुपये देते थे अब वो भी नहीं दिए जाते. भार्गव ने कहा आज तो रिकॉर्ड तोड़ एजेंडा पेश किया जाएगा. हमारा 6 पेज का एजेंडा है. सरकार जिस तरह चर्चा कराना चाहती है करा ले.अतिथि विद्वान, संबल योजना, बेरोज़गारी मुद्दा है. सरकार गरीबों की योजनाएं बंद कर अत्याचार कर रही है.पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा ये सरकार ग़रीबों के अंतिम संस्कार के भी पैसे भी खा गयी. अतिथि विद्वानों को नियमित करना होगा. उनकी आवाज़ भी हम उठाएंगे.संबल योजना में कोई फ़र्ज़ीवाड़ा है तो उसे सामने लाया जाए ना कि पूरी योजना बंद की जाए.बीजेपी के ये नेता जब मार्च करते हुए विधानसभा पहुंचे तो वहां उनसे मिलने विधानसभा अध्यक्ष एनपी प्रजापति और संसदीय कार्यमंत्री डॉ गोविंद सिंह पहुंचे. गुरुवार को सदन के घटनाक्रम के बाद स्पीकर इन नेताओं से चर्चा करने नेता प्रतिपक्ष के कक्ष में पहुंचे. इन नेताओं के बीच बंद कमरे में चर्चा हुई. बीजेपी के ये नेता आज शुक्रवार को सुबह गांधीजी की 150 वीं जयंती के मौके पर डाक टिकट के विमोचन कार्यक्रम में भी ये नेता नहीं पहुंचे थे.

Leave a Reply