Saturday, September 26, 2020
देश

एनआरसी और सीएए के खिलाफ सड़क पर उतरे वामदल , जगह-जगह रोकी ट्रेन

पटना. एनआरसी और नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में गुरुवार को वामदल के कार्यकर्ता सड़क पर उतर आए। पटना, दरभंगा और खगड़िया में ट्रेनें रोक दी गईं, जिससे रेल परिचालन पर असर पड़ा। वामदलों ने सड़क पर टायर जलाकर प्रदर्शन किया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वामदलों ने कहा- देशहित में सरकार को ये कानून वापस लेना पड़ेगा। सरकार के एक फैसले की वजह से पूरा देश जल रहा है। जगह-जगह छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं और सरकार उनके खिलाफ दमनात्मक कार्रवाई कर रही है। सरकार का कदम देश को पीछे धकेलने वाला है। वामदलों के इस बंद को कांग्रेस, रालोसपा, मुकेश सहनी की विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) और पप्पू यादव की जन अधिकार पार्टी ने समर्थन दिया है।

बंद के मद्देनजर पटना में रेल प्रशासन ने जंक्शन, राजेंद्र नगर टर्मिनल समेत बिहार के सभी स्टेशनों पर चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था कर रखी है। बांकीपुर बस स्टैंड से खुलने वाली ज्यादातर बसें यात्रियों के अभाव में खड़ी रहीं। वीआईपी अध्यक्ष मुकेश सहनी के कार्यकर्ताओं और पुलिस को बीच हल्की झड़प भी हुई है। मुकेश सहनी ने कहा कि युवाओं को रोजगार देना और महंगाई कम करना सरकार की प्राथमिकता होनी चाहिए, लेकिन केंद्र सभी जरूरी मुद्दों को दरकिनार कर कर रहा है।

दरभंगा में भी बिहार बंद को लेकर रेल का चक्का जाम किया गया। वामदल के कार्यकर्ताओं ने कमला-गंगा इंटरसिटी एक्सप्रेस को रोक दिया है। खगड़िया और लेहरियासराय स्टेशन पर कार्यकर्ता ट्रेनें रोककर प्रदर्शन कर रहे हैं।

Leave a Reply