Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / विकास यात्रा:पवैया ने किया सवा बाइस करोड़ के कार्यों का लोकार्पण और भूमि पूजन

विकास यात्रा:पवैया ने किया सवा बाइस करोड़ के कार्यों का लोकार्पण और भूमि पूजन

सामाजिक एवं अधोसंरचनागत विकास सरकार का धर्म – श्री पवैया
ग्वालियर । सामाजिक, आर्थिक एवं अधोसंरचनागत विकास लोक कल्याणकारी सरकार का धर्म होता है। प्रदेश सरकार इसी सोच के साथ विकास कार्यों को मूर्तरूप दे रही है। पिछले लगभग 15 साल के दौरान ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत विकास के बड़े-बड़े आयाम स्थापित हुए हैं। विकास की यह रफ्तार और तेज होगी। यह बात उच्च शिक्षा एवं लोक सेवा प्रबंधन मंत्री श्री जयभान सिंह पवैया ने कही। श्री पवैया जनसंवाद एवं जनकल्याण यात्रा (विकास यात्रा) के तहत विनयनगर व आनंदनगर में लोकार्पण एवं भूमिपूजन कार्यक्रमों को संबोधित कर रहे थे।

 

 

 

 

 

 

 

 

श्री पवैया रविवार को प्रात:काल विनयनगर और सांध्यबेला में आनंदनगर क्षेत्र में विकास यात्रा के तहत पहुँचे। इस दौरान उन्होंने कुल लगभग 22 करोड़ 26 लाख रूपए लागत के कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। साथ ही स्थानीय निवासियों से रूबरू होकर उनकी समस्यायें सुनीं और समस्याओं को समय-सीमा में निराकृत करने के निर्देश नगर निगम के अधिकारियों को दिए।
विकास यात्रा के तहत आयोजित हुए कार्यक्रमों को संबोधित करते हुए उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि अकेले ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में विकास यात्रा के दौरान लगभग 107 करोड़ लागत के विकास कार्य शुरू हो रहे हैं। ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में अमृत योजना के तहत पेयजल की 17 बड़ी-बड़ी टंकियां बनने जा रही हैं। इससे 30 साल तक की पेयजल समस्या का स्थायी निदान संभव होगा। साथ ही हर घर तक मीठा पानी पहुँचेगा।

 

 

 

 

 

 

 

 

श्री पवैया ने कहा चुने हुए जनप्रतिनिधि की जिम्मेदारी है कि वह अपने क्षेत्र में विकास की बड़ी-बड़ी योजनायें लेकर आए। साथ ही पूरे क्षेत्र का वातावरण सकारात्मक हो अर्थात सभी लोग मिलजुलकर और आपसी भाईचारे के साथ रहें। ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत इसी सोच के साथ विकास की इबारत लिखी जा रही है। उन्होंने कि उपनगर ग्वालियर एवं हजीरा क्षेत्र में सामाजिक विकास के उद्देश्य से राष्ट्रीय रामायण मेला का आयोजन हुआ, जिससे परिवार की भावना मजबूत हुई है। श्री पवैया ने असंगठित श्रमिक कल्याण योजना पर विस्तार से प्रकाश डाला और जरूरतमंदों से इस योजना का लाभ उठाने का आहवान किया।

 

 

 

 

 

 

 

इस अवसर पर सर्वश्री रामनिवास तोमर, राकेश खुरासिया, प्रयाग तोमर, गजेन्द्र राठोर, जागेश्वर सिंह भदौरिया, कनवर मंगलानी, जयसिंह सोलंकी, ए के सरकार, परशुराम गुर्जर, श्रीमती हेमलता बुधौलिया, रानी चौहान तथा अन्य जनप्रतिनिधिगण मौजूद थे।
इन कार्यों का हुआ लोकार्पण एवं भूमिपूजन
उच्च शिक्षा मंत्री ने शहर के वार्ड क्र.-3 के अंतर्गत विनयनगर तिकोनिया पार्क में आयोजित हुए कार्यक्रम में लगभग 8 करोड़ 56 लाख रूपए लागत के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इनमें वार्ड नं.-3 की विभिन्न बस्तियों में 33 लाख 85 हजार लागत के पेयजल एवं अन्य जनकार्यों का लोकार्पण शामिल है। जिन कार्यों का भूमिपूजन हुआ उनमें विनयनगर सेक्टर-1 में 79 लाख 35 हजार की लागत से बनने जा रही पेयजल टंकी 6 करोड़ 22 लाख से अधिक लागत से डाली जा रही 33 हजार 871 मीटर लम्बी पेयजल की पाइप लाईन, विनयनगर सेक्टर-2 के अंतर्गत भूतेवश्वर कॉलोनी में 89 लाख 27 हजार की लागत से बनने जा रही पेयजल टंकी तथा कांटे साहब का बाग रायगढ़ घोसीपुरा, विनयनगर सेक्टर-2 में नाली सहित बनने जा रही सीसी रोड़ शामिल है।

 

 

 

 

 

 

 

इसी तरह   रविवार के सायंकाल वार्ड क्र.-5 के अंतर्गत आनंदनगर में आयोजित हुए  कार्यक्रम में 13 करोड़ के कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन श्री पवैया द्वारा किया गया। इनमें अमृत योजना के तहत 750 लाख रूपए लागत की डाली जा रहीं कुल 4 हजार 835 मीटर लम्बी पेयजल एवं सीवर लाईनों का भूमिपूजन शामिल हैं। साथ ही इस क्षेत्र की विभिन्न कॉलोनियों में 3 करोड़ 68 लाख लागत के 51 जनकार्य अर्थात  सीवर लाइन, नाली व सड़कों इत्यादि और एक करोड़ 58 लाख रुपये लागत के पेयजल संबंधी कार्यों का लोकार्पण शामिल है। इसके अलावा 82 लाख 41 हज़ार रुपये लागत के जनकार्यों का भूमिपूजन और 12 लाख 39 हज़ार रुपये लागत के विद्युत संबंधी कार्यों का लोकार्पण उच्च शिक्षा मंत्री ने किया।

Check Also

आधुनिक भारत के जनक थे राजीव गांधी 

ग्वालियर। भारत को आधुनिकता की पटरी पर लाने के लिए राजीव जी ने जिस सोच …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.