Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / सियासत के दलदल  में अजातशत्रु थे राजेन्द्र सिंह- श्रद्धांजलि / देव श्रीमाली 

सियासत के दलदल  में अजातशत्रु थे राजेन्द्र सिंह- श्रद्धांजलि / देव श्रीमाली 

श्रद्धांजलि / देव श्रीमाली
ग्वालियर । जाने माने गांधीवादी नेता ,वरिष्ठ कांग्रेस नेता पूर्व मंत्री राजेन्द्र सिंह का बीती रात भोपाल में हृदयगति रुक जाने से दुखद निधन हो गया । वे 86 वर्ष के थे । वे रविवार सुबह भोपाल गए थे । रात को उन्हें बेचैनी होने पर अस्पताल ले जाया गया जहाँ उन्होंने अंतिम सांस ली ।
प्रसिद्ध गांधीवादी स्वतंत्रता सेनानी कक्का डोंगर सिंह के सुपुत्र राजेन्द्र सिंह का जन्म थाटीपुर गाँव मे हुआ । उन्होंने भी बचपन से ही कॉंग्रेस की सदस्यता ली और फिर ग्वालियर अंचल में कांग्रेस के विस्तार में महती भूमिका अदा की ।
श्री सिंह 1972 में मुरार क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक चुने गए और श्यामा चरण शुक्ल मंत्रिमंडल में लोक निर्माण मंत्री बने ।इस दौरान उन्होंने ग्वालियर के विकास में महती भूमिका अदा की । स्टेशन का सौंदर्यीकरण,वहां से लेकर बाड़े तक सड़को का चौड़ीकरण , बाड़े पर नजरबाग मार्केट,सुभाष मार्किट और गांधी मार्किट का निर्माण खासतौर पर फुटपाथ पर व्यापार करने वाले लोगो के लिए करवाया जिनमे ज्यादातर विभाजन के बाद पाकिस्तान से आये सिंधी और पंजाबी समुदाय के लोग थे । उन्होंने हाउसिंग बोर्ड के मुखिया के रूप में कई योजनाओं की शुरुआत ग्वालियर में कराई जिनमे तानसेन नगर का निर्माण शामिल है ।इसके अलावा नए ग्वालियर कब निर्माण के लिए उन्होंने सिटी सेंटर बसाने की पहल की जो आज आकार ले चुका है ।
श्री सिंह ग्वालियर में सादगी,सद्भाव और सामाजिक समभाव की राजनीति के प्रतिनिधि थे ।लोग सादगी और ईमानदारी के लिए उनकी मिशाल देते थे । कट्टर कांग्रेसी होने के बावजूद ऐसा कोई राजनीतिक दल नही है जिसके नेता उन्हें आदर और सम्मान न देते हो ।इसीलिए उन्हें अंचल के अजातशत्रु राजनेता कहा जाता था । उन्होंने सादगी,मिलन सरिता और सहजता को जीवन पर्यंत अपना गहना बनाकर रखा । मितभाषी और अल्पभाषी श्री सिंह जिन्हें सभी आदर से बाबूजी कहकर पुकारते थे ,ने कभी भी अपनी जुबान से किसी को भी कोई ऐसा शब्द नही बोला जो अप्रिय हो । उन्हें गुस्सा होते कभी किसी ने देखा नही । उनकी सबसे खास बात ये भी थी कि वे हर पीढ़ी के पसंदीदा रहे । उनके आसपास किशोर वय से लेकर युवा और हर पीढ़ी के लोगों का हुजूम सदैव मौजूद रहता था । होली,दीवाली जैसे त्योहारों पर उनसे मिलने हजारो की संख्या में लोग पहुंचते थे जबकि सत्ता की सियासत का दशाब्दियों से कोई नाता उंसके नही रहा । जब भी अवसर मिला उन्होंने विकास के लिए समर्पण भाव से काम किया । राज्यसभा सदस्य के रूप में जब हंसराज भारद्वाज ने अपनी सांसद निधि खर्च करने की जिम्मेदारी उन्हें सौंपी तो उन्होंने गाँव गाँव मे सड़के,हेण्डपम्प तो बनवाये ही लेकिन खास काम किया मुक्ति धामो के जीर्णोद्धार का ।उन्होंने जिले के तकरीबन सभी शमशान और कब्रिस्तानों का जीर्णोद्धार कराया जिससे इनकी भूमि अतिक्रमण से भी बच गई ।
स्व श्री सिंह कांग्रेस संगठन में विभिन्न पदों पर रहे । वे प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष,उपाध्यक्ष,पीसीसी और एआईसीसी के जिंदगीभर डेलीगेट रहे । पूरे राज्य में  कांग्रेस कार्यकर्ताओं से उनका सतत संपर्क था ।
वर्तमान में उनके पुत्र अशोक सिंह प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष है ।वे लोकसभा चुनाव भी लड़ चुके है ।
—-//
मंगलवार को होगी अंत्येष्ठि
स्व राजेन्द्र सिंह के दुखद निधन की खबर मिलते ही उनके सुपुत्र अशोक सिंह जो दिल्ली में सोमवार को दिल्ली में होने वाली संगठन की बैठक में भाग लेने दिल्ली जाने वाले थे , भोपाल रवाना हुए । आज संबरे से ही भोपाल में जवाहर चौक पर स्थित उनके एमएलए निवास पर कांग्रेस सहित विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों का जमावड़ा हो गया । सभी ने वहां पहुंचकर पुष्पांजलि  अर्पित की और ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति की कामना की ।
—//
सिंधिया सहित अनेक नेताओ ने शोक जताया
पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया,सांसद कांतिलाल भूरिया,पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और मप्र के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह पीसीसी अध्यक्ष अरुण यादव ,नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने स्व सिंह के निधन पर गहरा शोक जताते हुए कहाकि यह कांग्रेस के लिए अपूरणीय क्षति है । सभी ने श्रद्धांजलि देते हुए ईश्वर से प्रार्थना की कि उनकी आत्मा को शांति और शोक संतप्त परिवार को इस असीम दुख को सहन करने की शक्ति प्रदान करे ।
–//
कल होगा अंतिम संस्कार
स्व राजेन्द्र सिंह की पार्थिव देह लेकर उनके सुपुत्र अशोक सिंह आज पूर्वाह्न में सड़क मार्ग से ग्वालियर के लिए रवाना हो गए है जो देर शाम तक ग्वालियर पहुंचेंगे । सुबह नौ बजे उनकी अंतिम यात्रा 19 ए गांधी नगर स्थित आवास से शुरू होगी जो सिटी सेंटर स्थित थाटीपुर गाँव के पारिवारिक मुक्तिधाम पहुंचेगी जहां उनका अंतिम संस्कार होगा ।
शांति समिति की बैठक और कांग्रेस के कार्यक्रम रद्द
      आज प्रस्तावित शांति और सद्भाव समिति की बैठक स्व सिंह के निधन की खबर मिलते ही रद्द कर दी गई । यह जानकारी भूपेंद्र जैन ने दी जबकि कांग्रेस के जिला महामंत्री लतीफ खान मल्लू के अनुसार जिला कांग्रेस कमेटी ने तीन दिन का शोक घोषित करने के साथ सभी पूर्व निर्धारित कार्यक्रम भी रद्द कर दिए है ।

Check Also

आसाराम पर फैसले का काउंटडाउन शुरू, जोधपुर में धारा-144 लागू

यौन शोषण केस में जेल में बंद आसाराम पर जोधपुर कोर्ट 25 अप्रैल को अपना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *