Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / किसान सम्मेलन :अपने अपने समर्थकों को साथ लाये ,उन्हें भाषण सुनाया और निकल लिए

किसान सम्मेलन :अपने अपने समर्थकों को साथ लाये ,उन्हें भाषण सुनाया और निकल लिए

गवालियर । भारतीय जनता पार्टी में चल रही गुटबाजी अब जनता और नौकरशाही के बीच मज़ाक का विषय बन गयी है । इसका ताजा नज़ारा आज यहां आयोजित किसान सम्मेलन में देखने को मिला जहां अध्यक्षता कर रहे केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर अपना भाषण करके चले गए मुख्य अतिथि उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया और नागरीय प्रशासन मंत्री माया सिंह तब पहुंची ।

 

 

 

 

 

दरअसल आज पूरे प्रदेश में सरकार ने किसान सम्मेलनों का आयोजन किया था जिसमे मंत्रियों को भेजा गया था जबकि मुख्यमंत्री के भाषण का सीधा प्रसारण होना था । ग्वालियर में यह शासकीय आयोजन हुआ मेले के फेसिलेशन सेंटर में हुआ । कार्यक्रम में पहले तो किसान ही कम पहुंचे । तय कार्यक्रम के अनुसार विशिष्ट अतिथि महापौर विवेक शेजवलकर सवा दस बजे पहुंच गए तब वहां कलेक्टर राहुल जैन के अलावा कोई नही था । महापौर ने दस मिनिट प्रतीक्षा की । जब कोई नही आया तो तो  पंद्रह मिनिट बाद वे उठे और भाजपा के जिला महामंत्री कमल माखीजानी को गाड़ी में बैठाकर वहां से निकल लिए ।

 

 

 

 

 

इसके लगभग आधा घंटे बाद केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर अपने लाव लश्कर के साथ कार्यक्रम में पहुंचे । वहां मुख्य अतिथि उच्च शिक्षा मंत्री जय भान सिंह पवैया की प्रतीक्षा हो रही । थोड़ी देर के बाद श्री तोमर ने आयोजको से कहाकि मुझे जाना है । मेरा भाषण करा लो । आयोजक परेशान थे जवकिं क्या करते ? फटाफट संचालक ने श्री तोमर का नाम पुकारा और उन्होंने फटाफट अपना भाषण खत्म किया और अपने समथकों के साथ वहां से रवाना हो गए । पंडाल फिर खाली हो गया ।

 

 

 

 

 

 

तोमर के प्रस्थान के तत्काल बाद पवैया जी अपने समर्थकों के साथ मेले में पहुंचे । उंसके बाद मंच फिर सजा । दीप प्रज्जवलित हुआ । स्वागत सत्कार हुआ । और मेले का मंच फिर आबाद हो गया । पवैया जब भाषण दे रहे थे तब दूसरी मंत्री माया सिंह मंच पर पहुंची ।

 

 

 

 

 

किसान सम्मेलन में किसानों और अफसरों के बीच कृषि की जगह भाजपा नेताओं की आपसी कलह और गुटबाजी की चर्चा ही सर्वत्र व्याप्त रही ।आयोजन एक तरह से मजाक बनकर रह गया ।

Check Also

आसाराम पर फैसले का काउंटडाउन शुरू, जोधपुर में धारा-144 लागू

यौन शोषण केस में जेल में बंद आसाराम पर जोधपुर कोर्ट 25 अप्रैल को अपना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *