Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / शी जिनपिंग 5 साल के लिए दोबारा चीन के राष्ट्रपति चुने गए

शी जिनपिंग 5 साल के लिए दोबारा चीन के राष्ट्रपति चुने गए

बीजिंग. शी जिनपिंग को शनिवार को 5 साल के लिए दोबारा चीन का राष्ट्रपति चुन लिया गया। संसद (नेशनल पीपुल्स कांग्रेस-NPC) ने जिनपिंग के नाम पर औपचारिक रूप से मुहर लगा दी। जिनपिंग सबसे ताकतवर मानी जाने वाली सेंट्रल मिलिट्री कमीशन (सीएमसी) के भी प्रमुख रहेंगे। सीएमसी, चीनी मिलिट्री की टॉप कमांड है। 11 मार्च को चीन की संसद ने संविधान से उस नियम को हटा दिया जिसके तहत कोई भी शख्स सिर्फ 2 बार ही राष्ट्रपति रह सकता है। इसके साथ ही जिनपिंग जब तक चाहें तब तक देश के राष्ट्रपति रह सकते हैं।

 

 

 

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, 2023 में जिनपिंग कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) से रिटायर होंगे। शी 2013 में प्रेसिडेंट बने थे।
– एनपीसी ने जिनपिंग के करीबी वांग किशान को उपराष्ट्रपति घोषित किया है। कुल मिलाकर पूरी सत्ता जिनपिंग के हाथों में केंद्रित हो गई है।
– प्रधानमंत्री ली केकियांग को बरकरार रखा गया है, लेकिन पूरी कैबिनेट समेत सेंट्रल बैंक का गवर्नर बदला जाएगा।

 

 

 

 

 

 

 

 

भारत पर क्या पड़ेगा असर?
– माना जा रहा है कि चीन के विदेश मंत्री वांग यी को स्टेट काउंसलर की भूमिका मिल सकती है। लिहाजा वे देश के टॉप डिप्लोमैट बन सकते हैं और भारत-चीन सीमा विवाद में अहम किरदार निभा सकते हैं।
– फिलहाल भारत के लिए चीन के स्पेशल रिप्रेजेंटेटिव यांग जीईची हैं। अब उन्हें सीपीसी के पोलित ब्यूरो में भेजा गया है।

 

 

 

 

 

माओ के बाद दूसरे सबसे ताकतवर नेता बने जिनपिंग
– जिनपिंग 2013 में पहली बार चीन के राष्ट्रपति चुने गए थे। पिछले साल हुई सीपीसी की बैठक में उन्हें दोबारा राष्ट्रपति चुना गया। उनका दूसरा कार्यकाल 2023 तक चलेगा।
– इसके अलावा बैठक में जिनपिंग को दूसरी बार पार्टी प्रमुख भी चुना गया था। कांग्रेस ने उनके विचारों को संविधान में शामिल करने का फैसला किया था।
– राष्ट्रपति के लिए 2 कार्यकाल की सीमा खत्म होने के बाद जिनपिंग अब माओत्से तुंग के बाद चीन के सबसे ताकतवर नेता बन गए हैं।

 

 

Check Also

भोपाल आ रहे अखिलेश यादव  अध्यक्ष अरुण यादव से भी मिलेंगे

विधानसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर भोपाल आ रहे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.