Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / गृह मंत्री बोले – महिला अपराध रोको नही तो दूसरा ठौर मिलेंगे

गृह मंत्री बोले – महिला अपराध रोको नही तो दूसरा ठौर मिलेंगे

छेड़छाड़-महिला अपराध नहीं रुके तो भोपाल में तैनात वरिष्ठ अफसरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई: गृहमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह

भोपाल ।प्रदेश के गृहमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने  सख्त लहजे में चेतावनी देते हुए कहा कि यदि भोपाल में बच्चियों और महिलाओं के साथ छेड़छाड़, अपराध की घटनाओं पर रोक नहीं लगी तो भोपाल में पदस्थ वरिष्ठ अफसरों पर सीधी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए पुलिस को सख्त निर्देश दिए गए हैं।

 

 

 

 

 

 

आज राज्य विधानसभा में मीडिया के साथ चर्चा करते हुए गृहमंत्री श्री सिंह ने कहा कि भोपाल में बच्चियों और महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और अन्य अपराध की घटनाएं बढ़ीं हैं। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ऐसी घटनाओं पर सख्ती से रोक लगाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाओं पर रोक नहीं लग पाने की दशा में अब राजधानी में पदस्थ आला अफसरों के खिलाफ सीधी कार्रवाई की जाएगी।

 

 

 

 

इसी के साथ गृहमंत्री ने महिला अपराध को सामाजिक बुराई बताते हुए कहा है कि हम सभी को मिलकर इस समस्या से निपटना होगा। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों से भी अपील की है कि ऐसे मामलों में किसी आरोपी की सिफारिश न करें, बल्कि उसे दंड दिलाने की पहल करें।

आरती के पिता से बात करेंगे गृहमंत्री

राजधानी के बहुचर्चित आरती राय आत्महत्या प्रकरण में गृहमंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि  यदि आरती के परिवार को किसी तरह का भय है तो वे स्वयं आरती के पिता से बात करेंगे। उन्होंने कहा कि इस मामले में पुलिस ने अब तक जो संभव हो सकता था वह कार्रवाई की है।
गृहमंत्री श्री सिंह ने स्पष्ट किया कि मृत बालिका का कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है इसके बावजूद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर धारा 306 का प्रकरण कायम कर त्वरित कार्रवाई की है। उन्हें यह संज्ञान में है कि मृतिका को परेशान किया जा रहा था ।

 

 

 

 

 

गृहमंत्री ने कहा कि यदि मृतिका के परिजनों को किसी तरह से परेशान किया जा रहा है तो वे स्वयं आरती के पिता से बात कर सख्त कार्रवाई करेंगे।

Check Also

बम की सूचना के बाद खाली करवाया स्टेशन

लंदन। सेंट्रल लंदन के चैरिंग स्टेशन पर शुक्रवार को उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.