Home / ब्रेकिंग न्यूज़ / भाजपा शासन के दबाव में पुलिस नामजद प्रकरण पंजीबद्ध नही कर रही- पंकज चतुर्वेदी 

भाजपा शासन के दबाव में पुलिस नामजद प्रकरण पंजीबद्ध नही कर रही- पंकज चतुर्वेदी 

नंदकुमार चौहान के खिलाफ दर्ज़ हो प्रकरण

चुनाव के लिए काले धन को ढोने का काम कर रही हैं भाजपा की गाड़ियां

अशोकनगर- विगत दिवस अशोकनगर के पास बेलाई में एक कार दुर्घटना में दो लोगों की मौत हो गई थी, जिस कार से दुर्घटना हुई थी, वो कार प्रदेश भाजपा के नाम से पंजीकृत है एवं उक्त कार का उपयोग प्रदेश भाजपा के मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर द्वारा किया जाता है।

 

 

 

 

मध्य कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता पंकज चतुर्वेदी ने पत्रकारवार्ता को अशोकनगर में संबोधित करते हुए उक्त आरोप लगाए।

श्री चतुर्वेदी ने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि जिस गाड़ी से एक्सीडेंट हुआ उसकी जानकारी आर टी ओ विभाग की वेबसाइट से निकलने पर गाड़ी क्र MP04CS3254 भारतीय जनता पार्टी दीनदयाल परिसर E2 अरेरा कॉलोनी भोपाल के नाम पर रजिस्टर है लेकिन पुलिस द्वारा सरकार के दवाब में अज्ञात व्यक्ति के नाम प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है हम मांग करते हैं कि जब गाड़ी भारतीय जनता पार्टी के नाम पर रजिस्टर है तो भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नंद कुमार चौहान के नाम पर प्रकरण पंजीबद्ध हो और जो समय गाड़ी का उपयोग कर रहा था उस पर भी प्रकरण पंजीबद्ध हो।

 

 

 

 

 

जिस दिन दुर्घटना हुई उसी समय पुलिस को ये जानकारी हो गई थी कि उक्त कार का पंजीयन प्रदेश भाजपा के नाम से इस के बावजूद भी अज्ञात के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध करना ये स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि किस प्रकार से पुलिस प्रशासन भाजपा के राजनीतिक दबाव में काम कर रहा है।

इसके साथ ही ये भी जानकारी मिली है कि जिस समय दुर्घटना हुई उस समय उक्त कार में भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी  लोकेंद्र पाराशर मौजूद थे, जो कि घटना स्थल से फरार हो गए,

 

 

 

 

 

चतुर्वेदी के अनुसार इस विषय मे एक तरफ जहां पुलिस प्रशासन  ने दबाव में भाजपा नेताओं के खिलाफ प्रकरण पंजीबद्ध नही किया वहीं  समरसता, सुचिता और नैतिकता का पाठ पढ़ाने वाली भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी दुर्घटना में शिकार लोगों को तड़पता हुआ छोड़कर भाग खड़े हुए, इतना ही नही प्रदेश सरकार द्वारा राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त भुजबल अहिरवार भी अपने पायलट वाहन के साथ सायरन बजाते हुए घटना स्थल से सीधे निकल गए एक मिनट रुककर घायलों का हाल जानने एवं उनको अस्पताल पहुचाने की मानवता का धर्म भी नही निभा सके, हो सकता है कि यदि भाजपा के दोनों नेता घायलों को मदद पहुँचा देते तो मृतकों की जान बच सकती थी।

 

 

 

 

 

अशोकनगर की मीडिया ने भी प्रमुखता से उक्त मुद्दे को उठाया है जिसके लिए वो धन्यवाद की पात्र है।

इस घटना में सबसे बड़ा सवाल यह है कि यह गाड़ी बार-बार अशोकनगर जिले की मुंगावली विधानसभा के चक्कर लगा रही थी उपचुनाव का माहौल है, इसलिए पूरी पूरी आशंका है कि पार्टी की गाड़ी से चुनाव में कालेधन का परिवहन किया जा रहा है जिससे कि उपचुनाव प्रभावित किया जा सके।

 

 

 

 

 

उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान *मुंगावली विधानसभा जाकर घर-घर जाकर वोट मांग रहे हैं,लोगों से कह रहे हैं कि मैं आप का विकास करूंगा वही आज दिनांक तक मृतक के परिजनों से भाजपा का कोई भी नेता यह छोटा सा कार्यकर्ता तक पीड़ित परिवार से मिलने नहीं गया ।

हम मांग करते है कि पीड़ित परिवारो को 10-10 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाए और मृतकों के परिजनों को नौकरी दी जाए जिससे उनके परिवार का भरण-पोषण हो सके  पुलिस प्रशासन दोषियों पर तुरंत कांड पंजी बात कर कार्रवाई करें।

 

 

 

 

 

पुलिस प्रशासन भयमुक्त होकर नामजद प्रकरण पंजीबद्ध करे, ये अपील आज कांग्रेस मीडिया के माध्यम से करना चाहती है, यदि अशोकनगर पुलिस ने निष्पक्षता से कार्रवाई नही की तो हम डीजीपी से मुलाकात करके उक्त विषय मे त्वरित कार्यवाई की मांग करेंगे,

Check Also

मध्यांचल ग्रामीण बैंक को चोरों ने निशाना बनाया :कम्प्युटर, बैट्री, कैमरा नगदी सहित 60हजार रूपये की चोरी

शिवपुरी-थाना कोतवाली क्षेत्र में टोंगरा रोड़ पर स्थित मध्यांचल ग्रामीण बैंक को बीती रात्रि अज्ञात …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.