Home / राज्य / गुजरात / सवाई माधोपुर में मिनी बस नदी में गिरी; 26 की मौत, मरने वालों में कई मध्यप्रदेश के भी

सवाई माधोपुर में मिनी बस नदी में गिरी; 26 की मौत, मरने वालों में कई मध्यप्रदेश के भी

सवाई माधोपुर।  राजस्थान के सवाई मधोपुर के पास शनिवार को एक मिनी बस नदी में गिर गई। इस हादसे में 26 की मौत हो गई है । इनके अलावा  12 लोग जख्मी हो गए। मरने वालों में महिलाएंं और बच्चे भी शामिल हैं। जो लोग जख्मी हुए हैं, उन्हें इलाज के लिए हॉस्पिटल में भर्ती  किया गया है। घटनास्थल पर मौजूद लोगों का कहना है कि मरने वालों की तादाद बढ़ सकती है। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। मरने वालों में मध्यप्रदेश के लोग भी कुछ यात्री  शामिल हैं।

ऐसे हुआ हादसा ?

हादसा सुबह 6:15 बजे हुआ। सवाई माधोपुर के पास दुब्बी इलाके में बनास नदी पर बने पुल पर हुआ। बस पुल से नदी में गिर गई। 

 – जिस जगह पर हादसा हुआ, वह सवाई माधोपुर से करीब 20 किमी दूर है।  कहा जा रहा है कि बस को  नाबालिग चला रहा था। स्थानीय लोगों का कहना है कि ड्राइवर ने अपने नाबालिग कंडक्टर को बस चलाने को दी थी। पुल पर बस कंट्रोल से बाहर हो गई और वह रेलिंग तोड़ते हुए नदी में जा गिरी।

 

 

 

 

 

कंडक्टर की उम्र 16 साल बताई जा रही है। जबकि कुछ का कहना है की ओवरटेक करने के दौरान हुआ हादसा:सवाई माधोपुर के सांसद सुखबीर सिंह जौनपुरिया ने बताया कि हादसा ड्राइवर की वजह से हुआ। वह पुल पर ओवरटेक करने की कोशिश कर रहा था। इस मामले की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

 

 

 

 

उन्होंने कहा कि ज्यादातर मध्यप्रदेश के हैं। पुलिस अफसर सुभाष मिश्रा ने बताया कि अब तक 26 लोगों की बॉडी नदी से निकाली जा चुकी है।  – मरने वालों में राजस्थान, मध्यप्रदेश और बिहार के हैं। अभी तक जिन लोगों की पहचान हुई उनमें 7 लोग सवाई माधोपुर के हैं।  पैसेंजर्स से खचाखच भरी थी बस  – आईविटनेसेस के मुताबिक, यह मिनीबस बस यात्रियों से खचाखच भरी थी और काफी स्पीड से जा रही थी।  – बताया जा रहा है कि बस में करीब 40 लोग सवार थे।  – यह सवाई माधोपुर से लालसोट की ओर जा रही थी।

Check Also

घायलों से मुलाकात के बाद बोले कैप्टन- रेलवे से अलग करेंगे जांच

अमृतसर। अमृतसर में जोड़ा फाटक के पास शुक्रवार को दशहरे पर हुए ट्रेन हादसे में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.